समाचार / प्रादेशिक

हमने कभी हिंसा की वकालत नहीं की, केवल शांति की बात की : अल्पेश ठाकुर

B. Rao 2018-10-09 15:30:52


कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकुर ने मंगलवार को गुजरात में उत्तर प्रदेश, बिहार और मध्य प्रदेश के प्रवासी श्रमिकों के खिलाफ हिंसा उकसाने के सभी आरोपों को खारिज कर दिया राधानपुर विधायक ने कहा, गुजरात में केवल एक ही हिंसा की घटना हुई थी और मैं इसकी निंदा करता हूं अगर मैंने किसी को धमकी दी है, तो मैं खुद सामने से चलकर जेल जाऊंगा।

सभी भारतीय गुजरात में सुरक्षित

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश, बिहार और मध्य प्रदेश के कई प्रवासी श्रमिकों ने राज्य से पलायन कर दिया था, क्योंकि साबरकांठा में एक बच्चे के साथ दुष्कर्म की घटना से गुस्साई भीड़ ने कई बार इन प्रवासियों पर हमला किया था अपने ऊपर लगे हुए आरोपों पर सफाई देते हुए अल्पेश ठाकुर ने कहा कि गुजरात सबका है, जितना ये आपका है उतना ही ये मेरा भी है अल्पेश ठाकुर ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है, हमने कभी हिंसा की वकालत नहीं की है और केवल शांति की बात की है, सभी भारतीय गुजरात में सुरक्षित हैं।

आरोपी गिरफ्तार

28 सितंबर को, ठाकुर समुदाय से 14 महीने के एक बच्चे के साथ सबरकंठा जिले के हिम्मतमनगर शहर के पास एक गांव में कथित रूप से बलात्कार किया गया था इस मामले में पुलिस ने स्थानीय सिरेमिक फैक्ट्री में काम करने वाले बिहार के मूल निवासी मजदूर रविंद्र साहू को बलात्कार के आरोप में गिरफ्तार कर लिया था।

आप्रवासियों के साथ कथित रूप से की गई मारपीट

इस गिरफ़्तारी के बाद अल्पेश ठाकुर के नेतृत्व वाली क्षत्रिय ठाकुर सेना ने कहा था कि दूसरे राज्य के लोगों को गुजरात में नौकरी नहीं दी जानी चाहिए, साथ ही क्षत्रिय ठाकुर सेना के 200 लोगों के समूह ने मेहसाणा के वडनगर में कई आप्रवासियों के साथ कथित रूप से मारपीट भी की थी।