समाचार / राष्ट्रीय

सीपीआई(एम) विधायक पर लगे यौन शोषण के आरोप

B. Rao 2018-09-08 17:03:37



केरल के विधायक पीके ससी पर एक महिला ने पिछले हफ्ते यौन शोषण का आरोप लगाया था। इसपर केरल राज्य महिला आयोग प्रमुख एमसी जोसेफिन ने आरोपों का खंडन करने की कोशिश करते हुए कहा कि गलतियां हो जाती हैं और उन्होंने विधायक के खिलाफ औपचारिक शिकायत के अभाव में कार्रवाई करने से मना कर दिया। उन्होंने कहा, 'हम सभी इंसान हैं, गलतियां हो जाती हैं। पार्टी के अंदर मौजूद लोगों ने इस तरह की गलतियां की हैं।' यह बातें उन्होंने मामले पर क्या कार्रवाई करने के सवाल पर कहीं।

ससी पर पिछले हफ्ते एक महिला ने यौन शोषण का आरोप लगाया था लेकिन राज्य महिला आयोग प्रमुख का कहना है कि वह कोई कार्रवाई नहीं कर सकते क्योंकि अभी तक शिकायत दर्ज नहीं की गई है। उन्होंने कहा, 'हमें कोई शिकायत नहीं मिली है। स्वत: संज्ञान वाले मामलों में भी हमें कम से कम बेसिक जानकारियां चाहिए जैसे कि शिकायत की प्रकृति क्या है जिसे या तो मीडिया या फिर पीड़िता खुद उजागर कर सकती है। ऐसे मामले में यह नहीं हो सकता। तो हम कैसे मामला दर्ज कर सकते हैं?हालांकि राष्ट्रीय महिला आयोग ने इस मामले में संज्ञान लिया है और केरल पुलिस से इसकी जांच करने को कहा है। जोसेफिन का कहना है कि सीपीआई(एम) अंदरुनी तौर पर इस मामले से निपट सकता है। उन्होंने कहा, 'यह पार्टी का फैसला है। मार्कसिस्ट पार्टी के पास इस तरह की शिकायतों से निपटने के लिए अपनी प्रणाली है। यह कोई नई बात नहीं है। अपनी स्थापना के समय से ही पार्टी इस तरह की शिकायतों से निपटती रही है।शुक्रवार को सीपीआई(एम) ने एक बयान जारी कर कहा था कि उसे पार्टी के विधायक के खिलाफ 14 अगस्त को यौन शोषण की शिकायत मिली है। जिसके बाद इस मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। पार्टी ने मामले में उचित कार्रवाई करने का वादा किया था। सूत्रों के मुताबिक महिला ने वरिष्ठ नेताओं से संपर्क कर कहा कि उसके पास ससी के खिलाफ सबूत हैं। जिसमें ऑडियो क्लिप भी शामिल है। उसने अपनी शिकायत में ये भी कहा है कि ससी बीते एक साल से उसे प्रताड़ित कर रहा है।