धर्म / आस्था

कांवड़ियों का प्रिय स्थान केदारनाथ

B. Rao 2018-08-08 15:51:11


केदारनाथ के आसपास के प्राकृतिक वातावरण के चलते ये यह मन्दिर अप्रैल से नवंबर माह के मध् ही दर्शन के लिए खुलता है। ये अवधि जुलार्इ-अगस्त के मध्य पड़ने वाले  सावन के महीने की भी होती है। इसलिए सावन में शिवभक्त बड़ी तादात में यहां दर्शन करने आते हैं। इसी क्रम में कांवड़िये भी केदारनाथ में जल चढ़ाने को उमड़ते हैं। देश के बारह ज्योतिर्लिंगों में सर्वोच्च केदारेश्वर ज्योतिर्लिंग माना जाता है। इसीलिए यह मान्यता है कि यहां जल चढ़ाने आैर शिव का अभिषेक करने से सारे पापों से मुक्ति मिल जाती है।

केदारनाथ मन्दिर उत्तराखण्ड राज्य के रूद्रप्रयाग जिले में स्थित है। उत्तराखण्ड में हिमालय पर्वत की गोद में केदारनाथ मन्दिर बारह ज्योतिर्लिंग में सर्वश्रेष्ठ माने जाने के साथ ही ये चार धाम और पंच केदार में से भी एक है। पत्थरों से बने कत्यूरी शैली से बने इस मन्दिर के बारे में ये कहा जाता है कि इसका निर्माण पाण्डव वंश के राजा जनमेजय ने कराया था। यहां स्थापित अति प्राचीन शिवलिंग को भी स्वयम्भू यानि स्वत: स्थापित कहा जाता है।