धर्म / आस्था

मां वैष्णो देवी की यात्रा के लिए सभी मार्ग खुले, कटड़ा से गोरखपुर के बीच चलेगी विशेष ट्रेन

B. Rao 2018-05-28 16:01:12


मां वैष्णो देवी के नए ताराकोट मार्ग के पास शनिवार को जंगलों में लगी आग पर काफी हद तक काबू पा लिया गया है। इसके साथ ही मां वैष्णो देवी के दर्शन के लिए सभी मार्ग खोल दिए गए हैं। जंगल में लगी आग पर काबू पाने के लिए रात में आपदा प्रबंधन दल, श्राइन बोर्ड, दमकल विभाग, पुलिस सीआरपीएफ की टीमें लगी रहीं। तेज हवा के कारण आग पर काबू पाने में उन्हें परेशानियां झेलनी पड़ीं।रविवार सुबह श्राइन बोर्ड प्रशासन ने एयरफोर्स की मदद ली। सुबह करीब सात बजे एयरफोर्स के एमआइ-17 हेलीकॉप्टर ने जंगलों में लगी आग को बुझाने का काम शुरू किया। दोपहर 12 बजे तक आग बुझाने का काम जारी रहा। काफी हद तक आग पर काबू पा लिया गया है, पर अभी भी कुछ स्थानों पर धुआं उठ रहा है। श्राइन बोर्ड प्रशासन ने रविवार सुबह नए ताराकोट मार्ग के साथ ही बैटरी कार मार्ग श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया, जिससे एक बार फिर मां वैष्णो देवी की यात्रा पूरी तरह सुचारु हो गई है। दोपहर बाद तीन बजे तक करीब 25,000 श्रद्धालु पंजीकरण करवा कर भवन के लिए रवाना हो चुके थे। दूसरी ओर त्रिकुटा पर्वत के चनन, सूरजकुंड सुखाड़ घाटी क्षेत्र में अभी भी आग लगी हुई है। आग तेजी से आद्कुंवारी मंदिर के साथ ही कटड़ा में बने हेलीपैड की तरफ बढ़ रही है। हालांकि आग का दायरा इन दोनों स्थानों से करीब एक किलोमीटर दूर है, लेकिन आपदा प्रबंधन दल, दमकल विभाग, श्राइन बोर्ड अन्य एजेंसियां सतर्क हो गई हैं। दूसरी ओर श्राइन बोर्ड वैष्णो देवी यात्रा पर नजर रखे हुए है ताकि श्रद्धालुओं को कोई परेशानी हो। श्राइन बोर्ड का कहना है कि त्रिकुटा पर्वत पर लगी आग को बुझाने का कार्य तेजी से जारी है। अगर जरूरत पड़ी तो एक बार फिर एयरफोर्स की मदद ली जाएगी, जिसको लेकर लगातार एयरफोर्स के संपर्क में हैं।